कई स्थानों पर बड़े पैमाने परअवैध बालू का भंडारण कई स्थानों पर प्रधान मुख्य वन संरक्षक ममता दुबे का निर्देश बेअसर

(प्रमोद कुमार(दुद्धी सोनभद्र । तहसील क्षेत्र के बघाडू और विंढमगंज रेंज के ठेमा नदी कनहर नदी अमवर के आसपास दिघूल गांव आदि में अवैध बालू का भंडारण खनन माफियाओं द्वारा बड़े पैमाने पर जगह-जगह कर सरकार के राजस्व की लाखों की क्षति खुलेआम पहुंचाई जा रही है।, एक ओर जहां आम आदमी को बालू मयस्सर नहीं हो रहा है वहीं विभाग की मिलीभगत से खनन माफियाओं द्वारा बालू का भंडारण कर ट्रैक्टरों से ऊंचे दामों में खुलेआम बेची जा रही है lग्राम वासियों एवं नगर वासियों का आर्थिक शोषण भारी पैमाने पर किया जा रहा है l बेहतर होता छत्तीसगढ़ सरकार की तर्ज पर आम आदमी के लिए ट्रैक्टरों से राजस्व की प्राप्ति सरकार कर बालू की सस्ते दर पर उपलब्धता कराकर आम आदमी का दिल जीत पाती l परंतु सरकार की गलत नीतियों के कारण आम आदमी के पहुंच से बालू मिलो दूर हो गया है l खनन माफिया अवैध भंडारण कर जहां मालामाल हो रहे हैं वहीं प्रदेश सरकार की छवि खुलेआम धूमिल हो रही है l सफेदपोश दलालों के सह पर यह धंधा चल रहा है और अधिकारी बेखबर हैं। जबकि गत दिनों पूर्व हाथीनाला बायोडायवर्सिटी पार्क में पहुंची प्रधान मुख्य वन संरक्षक नें अवैध भंडारण, खनन आदि को लेकर सख्त निर्देश वन विभाग को दिया था l परंतु बालू भंडारण बालू माफिया हर दिन लाखों रुपए की अवैध कमाई कर रहा है और वही कई लाख रुपया राजेश्वर की छवि हो रही है। विभाग की मिलीभगत से सफल हों रहें हैं, जिसे रोकना होगा l

ये भी पढ़िए