तीन दिवसीय प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र वितरण के साथ हुआ समापन

(अजीत कुमार)

म्योरपुर-सोनभद्र।स्थानीय विकास खंड सभागार में तीन दिवसीय आशा संगिनी व एएनएम एवं अन्य कर्मियों के प्रशिक्षण का बृहस्पतिवार को प्रमाण पत्र वितरण के साथ समापन हुआ।इस मौके पर उन्हें विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी गई।कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।म्योरपुर ब्लाक सभागार में बृहस्पतिवार को तीन दिवसीय शिविर का समापन हुआ।तीन दिवसीय शिविर में महिलाओं की मृत्यु दर कम करने और कुपोषण से बच्चों को बचाने की दिशा में बेहतर पहल करने को लेकर प्रशिक्षण दिया गया।जिलाधिकारी की पहल पर गोरखपुर मेडिकल कॉलेज से आए प्रशिक्षकों ने तीन दिन तक प्रशिक्षण दिया।इस मौके पर राज्य स्तरीय प्रशिक्षक इंद्रमोहन ओझा, प्रवीन दुबे व अशोक पांडे ने सैम मैम प्रबंधन, मातृ मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर, कुपोषण की सही पहचान और प्रबंधन कैसे हो, गर्भवती महिलाओं की देखभाल किशोरियों में आयरन की कमी और बिमारियो की पहचान कर निदान, नवजात शिशु की देखभाल करना और गंभीर बीमारी की पहचान कर रेफर करना पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण दिया।प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षणार्थी एएनएम और आशा संगीनी को ब्लाक प्रमुख मानसिंह गोंड़ व सीएचसी अधीक्षक डॉ राजन सिंह संयुक्त रूप से प्रमाण पत्र का वितरण किया गया।शिविर के समापन के दौरान अपर शोध अधिकारी उमाशंकर पांडेय, बीसीपीएम प्रवीण कुमार, लीलावती समेत बड़ी संख्या में प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।

ये भी पढ़िए