को पीने के पानी को लेकर ग्रामीणों ने किया विरोध प्रदर्शन

(मदन मोहन)नौगढ़ चंदौली : पीने के पानी को लेकर ग्रामीणों ने किया विरोध प्रदर्शन मामला ग्राम पंचायत शमशेरपुर के राजस्व गांव औराही गांव का है जहां पानी पीने की काफी दिक्कतें हो रही हैं पेयजल की व्यवस्थाएं संकुचित है 7 हैंडपंप खराब हो गया है मरम्मत नहीं हो रहा है ग्राम प्रधान व अधिकारी गांव के लोगों की बात को अनसुना करने में लगे हैं साथ ही गांव में लगे सोलर पंप भी पिछले 2 साल से खराब पड़ा हुआ है जिसकी शिकायत ग्रामीणों के द्वारा निरंतर किए जाने के बाद भी अब तक मरम्मत नहीं कराया गया है। जिलाधिकारी चंदौली निखिल टीकाराम फुंडे के द्वारा सख्त निर्देश जारी किया गया है कि सभी गांव में टैंकर चलाकर पीनी मुहैया कराया जाए लेकिन उसके बाद भी अब तक पीने के लिए पानी कभी मुहैया नहीं कराया गया है। जिससे नाराज ग्रामीणों ने गांव के विद्यालय, खराब हैंडपंप ,सोलर पंप के समीप इकट्ठा हो कर विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि ग्राम प्रधान के द्वारा हमारे साथ दोयम दर्जे का व्यवहार किया जा रहा है हम सभी को पीने का पानी व अन्य सभी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता है उन्होंने यह भी बताया कि यदि हम उनसे अपनी समस्या कहते हैं तो जवाब में यह मिलता है कि पहले हम अपने आदमियों की व्यवस्था को देखेंगे बाद में आपकी सुनेंगे क्योंकि आपने हमें वोट नहीं दिया है ग्रामीणों ने यह भी बताया कि हमारे बस्ती में इस वर्ष 18 शादियां हुई एक शादी में भी प्रधान के द्वारा संचालित टैंकर का सहयोग नहीं मिला जिसकी वजह से काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा
अंत में ग्रामीणों ने विरोध जताते हुए यह भी कहा कि यदि हमारी समस्याओं का निस्तारण अति शीघ्र नहीं किया गया तो हम सब अब चुप नहीं रहेंगे ब्लॉक मुख्यालय अथवा रोड जाम कर प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे इस विरोध प्रदर्शन में
छोटी, लालती, उर्मिला, उषा ,मंजू, कमलावती, पानकुवर उर्मिला, संगीता, इन्द्रावती, मुनिया, सुनीता ,उर्मिला, बसंती, बबुन्दर ,राममूरत ,रामनरेश, मुन्नीलाल ,वंशराज, नीरज कुमार, मुन्ना, नवीन कुमार ,धीरज ,लाल बहादुर, लक्ष्मण, अमरेश, दिनेश, ओम प्रकाश, बिंदु, राम दुलारे, संतोष ,नागेश्वर, आजाद, बृजेश, राजकुमार, जगजीवन,मुनीम सुरेंद्र, अमरेश ,होरिल ,आलोक, गया, रामप्रसाद, अशोक कुमार, मुन्नी ,अजय कुमार, बीफवंती, रेखा ,सुनीता, मिंटू देवी, कमलावती, मीरा ,उर्मिला, मीणा, सरोज ,इत्यादि सैकड़ों ग्रामवासी उपस्थित रहे।

ये भी पढ़िए